प्याज और रुलायेगी… टमाटर और गुस्से से लाल… गड़बड़ाई किचिन…

आगरा ताज नगरी आगरा में जैसे-जैसे सर्दी नजदीक आ रही है । वैसे वैसे सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं । सब्जियों के दामों में एकाएक वृद्धि को लेकर किचन की मुखिया ग्रहणी को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । सब्जी के दामों में वृद्धि को लेकर वजह साफ है कि सहालग शुरू हो चुका है । शादियों का सीजन है । सब्जियों की पैदावार कम है और खपत ज्यादा है । इसलिए सब्जी के दामों में वृद्धि देखी जा रही है। ताजनगरी आगरा में सब्जी विक्रेताओं की अगर बात की जाए तो सब्जी विक्रेता बताते हैं कि सब्जियों के राजा आलू के दामों में तो ज्यादा वृद्धि नहीं है । मगर टमाटर प्याज लहसुन मटर सहित अन्य सब्जियों के दाम एक दम बड़े है। जहां टमाटर 50 किलो बिक रहा है तो वही प्याज भी 40-50 प्रति किलो के भाव से बेचीं जा रही है तो मटर 80 से 100 प्रति किलो बिक रही है।

सब्जी के दामों में वृद्धि को लेकर सब्जी विक्रेता बताते हैं कि ग्राहकों की कमी है और ज्यादा सब्जी खरीदने वाले लोग गुजर बसर के लिए कम सब्जी खरीद रहे हैं और गुजारा कर रहे हैं। माह में ताजनगरी में कुछ सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं । जिसको लेकर लोगों की किचिन गडबड़ा गई है । घर में काम काज संभालने वाली ग्रहणी कहती हैं कि टमाटर और प्याज के साथ सब्जियों के दामों में वृद्धि ने किचिन का स्वाद फीका कर दिया है । जहा परिवार के लोग जरूरत के लिए आधे में ही काम चला रहे । सब्जी के दामों में वृद्धि को लेकर महिलाओं में खांसी मायूसी है तो सब्जी भी बढ़ रही हैं किचन का स्वाद बेस्वाद हो रहा है। अब लाल टमाटर के दामो में वृद्धि से टमाटर का रंग गुस्से से और ज्यादा लाल हो गया है तो प्याज के दामो की वृद्धि लोगो को अब और रुला रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*