दिल्ली की टीम ने क्यों किया यमुना मिशन मार्ग का निरिक्षण

मथुरा। दिल्ली में व्याप्त प्रदूषण दिल्ली वासियो के लिए सिरदर्द बना हुआ है। दिल्ली की हवा में बड़ रहे जहर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार को सख्त हिदायत भी दी है। दिल्ली में प्रदुषण कैसे कम हो इसको लेकर दिल्ली से 20 सदस्यों की एक टीम मथुरा पहुची। जहा इस टीम ने मथुरा के यमुना मिशन मार्ग का निरीक्षण किया और यह जानने का प्रयास किया गया की आखिर यमुना मिशन के पास ऐसी कौन सी पद्धति है। जिससे कारण मथुरा में प्रदूषण की मात्रा नाम मात्र है। इस निरिक्षण के दौरान 20 सदस्यीय टीम ने पाया कि यमुना मिशन ने यमुना मिशन मार्ग के चारो ओर हरियाली का साम्राज्य स्थापित कर रखा है। 

इस सम्बन्ध में दिल्ली की 20 सदस्यीय टीम ने यमुना मिशन के संयोजक पं.अनिल शर्मा से वार्ता की। पंडित अनिल शर्मा का कहना था कि प्रदूषण को जड़ से खत्म करने का सिर्फ एक उपाय है और वो सिर्फ वृक्ष रोपड़ है। यमुना मिशन मार्ग पर प्रतिदिन वृक्षारोपण किया जाता है और उन वृक्षों की देखभाल के लिए भी पूरी टीम गठित की गई है। जो यहां लगे वृक्षों की देखभाल करती है। इसी वृक्षारोपड़ के कारण ही क्षेत्र की हवो हवा शुद्ध मिल रही है।

रिपोर्ट जीवनदीप कल्याण

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*