तूफान की दहशत, स्कूल नहीं गए बच्चे, घरों में कैद लोग, देखें वीडियो

आगरा। बीती 11 अप्रैल को ताजनगरी में भयंकर तूफान बारिश और ओलावृष्टि ने तबाही मचाई थी। ताजनगरी में 11 अप्रैल की रात वो काली रात साबित हुई। जब तूफान ने किसानों की न केवल कमर तोड़ कर रख दी बल्कि करोड़ों रुपयों का नुकसान हुआ।

आज तक विद्युत व्यवस्था ठप है। देहात के कई इलाके बिजली और पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। इस प्राकृतिक आपदा को लेकर अभी तक लोग दहशत के साए में जी रहे थे कि एक बार फिर जिला प्रशासन मंगलवार को भयंकर तूफान और बवंडर को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है।

जिलाधिकारी ने जहां तूफान को लेकर अलर्ट जारी करते हुए सावधानी बरतने की चेतावनी दी है तो वहीं SSP आगरा अमित पाठक ने शहर वासियों के लिए एडवाइजरी जारी की है। इस एडवाइजरी जारी होने के बाद ताजनगरी के बाशिंदे दहशत के साए में जी रहे हैं।

लोग घरों में कैद होने को मजबूर हैं तो वहीं दहशत के साए में आए लोगों ने अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा। आगरा के हर एक घर में चर्चा इस बात की भी है कि जब 11 अप्रैल को आए तूफान ने इतनी तबाही मचाई तो मंगलवार को आया तूफान क्या कुछ कर सकता है।

आलम यह है कि कुछ लोगों ने तो अपने घरों में राशन पानी तक भरा लिया है। इसके अलावा बच्चों को स्कूल जाने से रोक दिया गया है। मौसम के बदलते मिजाज से जहां ताजनगरी वासियों की धड़कनें बढ़ रही है तो वहीं चिंता इस बात की भी है अगर तूफान की तबाही से जान और माल की हानि हुई तो शायद उसकी भरपाई जीवन भर नहीं हो पाएगी।

हालांकि प्रशासन ने ताजनगरी वासियों को पहले ही अलर्ट किया है। बावजूद इसके लोग ना तो नौकरी पर जा रहे हैं। और न ही बच्चों को स्कूल भेज रहे हैं और घर में ही लोग अपने बच्चों के पास बैठे हैं।

आपको बताते चलें कि बीती 11 अप्रैल की रात को तूफान ने ताजनगरी आगरा में तबाही मचाई थी। विद्युत पोलों को गिरा दिया गया। कई बिल्डिंग धराशाई हुई। तकरीबन 14 लोगों की मौत हो गई। इसके बाद आगरा की सड़कों पर जाम की स्थिति बनी और विद्युत व्यवस्था से लेकर लोग पानी को तरसे। तूफान की तबाही का यह मंजर ताजनगरी वासियों ने वर्षों बाद देखा होगा और युवा पीढ़ी ने तो पहली बार ही देखा था।

सोमवार की रात को जिला प्रशासन ने एक बार फिर तूफान को लेकर अलर्ट जारी किया है। जिसको लेकर आगरा के लोगों की रूह कांप उठी है लोग यह सोच रहे हैं कि आखिरकार 11 अप्रैल में तूफान की तबाही का मंजर जिन लोगों ने देखा या फिर जिन लोगों ने इसे सहन किया वह आज तक भरपाई नहीं कर पाए तो 17 अप्रैल को आने वाला तूफान कैसे तबाही मचाएगा। इसको लेकर लोग घरों में चर्चा कर रहे हैं और लोग अपना इंतजाम भी करने लगे हैं।

About admin 5851 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*