ताजमहल को लेकर दी आंदोलन की चेतावनी

आगरा। ताजनगरी में सभी धर्मों के लोग रहते हैं। सभी लोगों में प्रेम का भाव है इसलिए आगरा को मोहब्बत की नगरी कहा जाता है और ऐसा इसलिए भी है कि मोहब्बत की निशानी ताजमहल आगरा में है जिसे शाहजहाँ ने अपनी बेगम मुमताज की याद में बनवाया था। इसलिए आगरा की पहचान देश-विदेश में प्रेम के प्रतीक ताजमहल के कारण भी है लेकिन आज आगरा और आगरावासियों की इस पहचान को प्रदेश की सरकार, भाजपा और हिंदूवादी संघठन छीनने का प्रयास कर रही है। यह आरोप एक बार फिर Aimim के जिला अध्यक्ष मो0 इदरीस अली ने लगाया है। उनका कहना है कि प्रदेश सरकार ने ताजमहल को पर्यटन बुकलेट में शामिल न करके आगरावासियों से ताजनगरी के वाशिंदे होने की पहचान छीनने का प्रयास कर रही है।

इस सम्बन्ध में Aimim के जिला अध्यक्ष मो0 इदरीस अली का एक विडियो वायरल हुआ है। यह विडियो भी ऐसे समय में वायरल हुआ है जब दो दिन बाद खुद सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ आगरा आ रहे हैं। इस विडियो में Aimim के जिला अध्यक्ष मो0 इदरीस अली ने आगरावासियों की पहचान का जिक्र किया है जिसमे सभी धर्मो के सभी स्मारकों को खुद की और आगरावासियों की पहचान बताया। साथ ही ताजमहल को पर्यटन लिस्ट में शामिल न करने पर प्रदेश सरकार को आड़े हाथ लिया।

इदरीश अली का कहना है कि ताजमहल जिसे पूरा विश्व जानता है। वही ताजमहल आज आगरा में अपने वजूद व पहचान को ढूंढ रहा है। ऐसा आज से पहले उत्तर प्रदेश की राजनीति में कभी नहीं हुआ क्योंकि प्रदेश पर राज्य कर चुकी सरकारें जानती थी कि ताजमहल की वजह से ही आगरावासियों में एक-दूसरे के लिए मोहब्बत है। खुद सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ स्वीकार चुके हैं कि  ताज के निर्माण में हिन्दू मुस्लिम दोनों का ही खून पसीना शामिल है लेकिन हिंदूवादी सरकार इसे आज भी दूसरे नजरिये से देखती है।

वायरल वीडियो में इदरीश अली ने आगरा के नौ विधायक और दोनों सांसदों को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि आजतलक आगरा को बैराज, एअरपोर्ट, स्टेडियम और हाइकोर्ट दिलवाने में भाजपा पार्टी नाकाम रही। आगरा को कुछ मिला तो नहीं उल्टा जो यहाँ मौजूद था वह हक़ भी हम आगरावासियों से छीना जा रहा है।

इदरीश अली ने कहा है कि आगरा आगमन से पूर्व यदि योगी सरकार ताजमहल को पर्यटन बुकलेट की लिस्ट में जोड़ ले तो उनका विरोध समाप्त हो जायेगा नहीं तो उनका ये विरोध योगी आदित्यनाथ के आगरा जाने के बाद से ही आंदोलन में बदल जाएगा जिसके लिए उन्होंने आगरा की समस्त जनता, सभी विपक्षी पार्टियों और समाजसेवी संगठनों से आंदोलन में जुड़ने के लिए सहयोग माँगा है।

About admin 4791 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*