Home बड़ी खबर एम्स भोपाल के छात्रों ने किया पैदल दिल्ली कूच, जानिये क्यों

एम्स भोपाल के छात्रों ने किया पैदल दिल्ली कूच, जानिये क्यों

by

आगरा। एम्स भोपाल के चार छात्र दिनांक 3 मई 2018 को भोपाल से दिल्ली तक पैदल यात्रा कर रहे हैं। यह यात्रा निर्माण भवन, स्वास्थ्य मंत्रालय दिल्ली तक जाएगी और वहां उच्च अधिकारियों से मिलकर एम्स भोपाल में स्थायी निदेशक जल्द से जल्द नियुक्त करने की मांग की जाएगी। एम्स भोपाल जो कि राष्ट्रीय महत्त्व की संस्थान है पिछले तीन वर्षों से कार्यवाहक निदेशक के भरोसे चलायी जा रही है जिससे छात्रहित मरीज़हीत के कार्यों में देरी का सामना करनी पड़ रही है।

चार छात्रों से शुरु हुई यात्रा का काफिला बड़ा हो चला है। चिकित्सक इस यात्रा में शामिल हो रहे है। मेडिकल छात्रों का कहना है कि भोपाल से चलने के बाद पहले दिन (3 मई) को 23 किलोमीटर की दूरी तय की और दूसरे दिन कुल 57 किलोमीटर की दूरी तय कर सांची में रात्री विश्राम किया। तीसरे दिन कुल 85 किमी की दूरी तय कर देव खजूरी में विश्राम किया। दिनांक 6 मई 2018 को जो कि यात्रा का चौथा दिन है। दोपहर तक कुल 100 किमी की दूरी पूरी कर ली है। 6 मई को अमबानगर में रात्रि विश्राम के पश्चात 7 मई को बरवाई मे विश्राम किया। बरवाई से 8 मई को डुंडेरी तक पहुंचकर विश्राम किया। आज 10 मई को चंदेरी पहुंचकर अपनी पदयात्रा में जोरो-शोरों से आगे बढ रहे हैं। 11 मई को रेडी चौराहा पर रुके। 12 मई को करीब 29 की मी चलकर गंज दिनारा में रुके। तत्पश्चात कल 14 मई को दतिया में विश्राम कर आज 16 मई को 400 की मी की यात्रा पूर्ण कर ग्वालियर मी विश्राम किया। फिर नूराबाद वा धौलपुर से होते हुए आज आगरा की अोर बढ़ रहे हैं।

एम्स के छात्रों का कहना है कि जब कोई स्थाई निदेशक नहीं होगा तो उनकी समस्याओं का निदान कैसे होगा। मरीजों का सही इलाज नहीं हो पायेगा। चिकित्सा के लिये जरुरी व्यवस्थाओं से भी जूझना पड़ रहा है।

छात्रों की यह यात्रा दिल्ली पर समाप्त होगी और स्वास्थ्य मंत्री के साथ मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा जायेगा।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: