एक नोटबंदी हिटलर ने की एक नोटबंदी मोदी ने – प्रमोद तिवारी

आगरा। देश से भ्रष्टाचार को खत्म करने के नाम पर आज से 1 वर्ष पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो नोटबंदी की थी उस समय नोटबंदी के दौरान आम व्यक्ति के साथ-साथ किसानों ने अपनी जान तक गंवा दी थी। इतना ही नहीं कईयों की शादियां तक टूट गई थी। इसके बावजूद भाजपा इसे भ्रष्टाचार विरोधी दिवस के रुप में मनाने जा रही है जिसके विरोध में कांग्रेसी नेता उतर आए हैं।

स्वर्गीय इंदिरा गांधी की जन्म शताब्दी समारोह के दौरान आगरा आए कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने नोटबंदी को लेकर भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथ लिया। राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी का कहना था कि पूरे विश्व में नोटबंदी तीन लोगों ने की थी जिसमें हिटलर भी शामिल था और नोटबंदी के इस पंक्ति में आप हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हो गए हैं। ऐसे व्यक्ति के लिए कुछ कहने के लिए उनके पास शब्द ही नहीं है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना हित साधने के लिए सैकड़ों लोगों को काल के गाल में भेज दिया और नोटबंदी की 1 वर्ष पूरे होने पर अब वह जश्न अब वह उन लोगों की मौत पर जश्न मनाने की तैयारी कर रहे हैं।

वहीं राज्यसभा सांसद पी एल पुनिया ने भी नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री को आड़े हाथ लिया उनका कहना था कि नोटबंदी को 1 वर्ष पूरा हो गया है और कांग्रेस पूरे देश में 8 नवंबर को काला दिवस के रूप में मनाएगी। इस दिन 8 नवंबर को सभी कांग्रेसी हाथ पर काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन करेंगे साथ ही जिन लोगों ने नोटबंदी के दौरान जान गंवाई थी उनको श्रद्धांजलि दी जाएगी। शाम को कांग्रेस कार्यकर्ता कई स्थानों पर एकत्रित होंगे और मोमबत्ती जलाकर सभी मृतकों को श्रद्धांजलि देंगे।

राज्यसभा सांसद पी एल पुनिया का कहना था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 3 साल की सरकार ने कुछ नहीं किया लेकिन नोटबंदी जैसे विकास पैदा कर कर व्यापारी, किसान और आम व्यक्ति को उस समय मरने पर जरूर मजबूर कर दिया था। नोटबंदी और जीएसटी जैसे मुद्दों को आम जनता आने वाले चुनाव में भाजपा को करारा जवाब देगी।

वहीँ वरिष्ठ कांग्रेसी नज़ीर अहमद का कहना था कि पिछले एक वर्ष में व्यापारी पूरी तरह से बर्बाद हो गया है। फुटवेअर के साथ साथ अन्य कई ऐसे व्यवसाय ऐसे हैं जो अभी तक नहीं संभल पाये और स्थिति दिन प्रतिदिन और खराब होती जा रही है। नोटबंदी के दुष्परिणामों को हम अभी तक भुगत रहे हैं। भाजपाई इस दिवस का ख़ुशी से इजहार कर रहे हैं लेकिन इस दैरान मृतकों के परिवारों से उन्हें कोई सरोकार नहीं है।

About admin 4667 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*