यमुना मैया की आरती में गूंजा अनुच्छेद 370 का मुद्दा, सौहार्द बनाये रखने का लिया संकल्प

आगरा। श्री कैलाश मंदिर पर प्रत्येक सोमवार को श्री यमुना घाट की सफाई के पश्चात् घाट पर चौक पूरन, रंगोली दीप एवं पुष्पों से श्रंगार करके आरती की जाती है। प्राचीन कैलाश मंदिर भगवान शिव मंदिर में पूजा अर्चना कर आरती के पश्चात गंगा यमुना मैया की आरती का आयोजन किया गया। महंत गौरव गिरि, महन्त प्रकाश गिरी, सागर गिरि, विनोद गिरी के मार्गदर्शन में एवं श्री बाँके बिहारी वेलफेयर सोसायटी के संस्थापक डॉ मदन मोहन शर्मा ने आरती का आयोजन किया।

इस अवसर श्री बाँके बिहारी वैलफेयर सोसायटी के संस्थापक डॉ मदन मोहन शर्मा ने बताया कि लबालब यमुना में शाम को दीपों की जगमगाहट और भक्ति में लीन होकर श्री कैलाश मंदिर के यमुना तट पर मैया की आरती करते भक्त, जो जहां खडा था वह हाथ जोडकर यमुना मैया की भक्ति में डूब गया। श्री कैलाश मंदिर पर सोमवार को श्री बांके बिहारी वेलफेयर सोसायटी द्वारा यमुना मैया की आरती के बाद अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू कश्मीर सहित देश भर में भाईचारा और सौहार्द बनाए रखने का संकल्प दिलवाया गया, सोमवार को शिवालयों में भक्तों की भीड उमडी है तो ईद भी मनाई जा रही है।

आरती में भाग लेने आये लोगों ने कहा कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जहां सोमवार को ईद मनाई गई, वहीं शिवालयों पर भी भीड है। एक दूसरे को ईद की बधाई दी जा रही है। यह भारत में संभव है। सभी ने संकल्प लिया कि भाईचारा और सौहार्द बनाए रखा जाएगा। सभी को यमुना स्वच्छता का संकल्प दिलाते हुये सभी भक्तों से प्रत्येक सोमवार यमुना घाट की सफाई में योगदान कर आरती में शामिल होने का भी अनुरोध किया।

मदन मोहन शर्मा ने अतिथियों का स्वागत व अभिनन्दन कर “यमुना साधक सम्मान” से सम्मानित भी किया। सभी यमुना भक्तों ने मिलकर यमुना को स्वच्छ रखने का संकल्प लिया। प्रमुख रूप से नकुल सारस्वत, केशव भारती, शोभित भार्गव, रामानुज मिश्रा सुशील सारस्वत, अमन सारस्वत, रवि आदि मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*