इस तूफ़ान ने 20 साल पीछे कर दी गाँव की ज़िन्दगी

आगरा। अप्रैल में आए तूफान से अभी आगरा में दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम उबर भी नहीं पाया था कि 2 मई के तूफान ने फिर उसे गहरी चोट पहुंचाई है। तूफान के चलते विभाग को 6 करोड़ से ऊपर का नुकसान पहुंचा है तो वहीं 800 से ज्यादा गांव अभी भी अंधेरे में डूबे हुए हैं। 88 सब स्टेशनों में से केवल 26 सब स्टेशन चालू हो पाए हैं। जबकि 62 सब स्टेशन अभी भी बंद पड़े हैं। इन सभी स्टेशनों को चालू करने में बिजली विभाग ने 1 हफ्ते का समय लगने का अनुमान लगाया है। वहीं बताया गया कि तूफान एक चक्रवाती किस्म का था जिसके कारण 132 केवी के हाईटेंशन खंभे भी उखड़ गए।

बिजली व्यवस्था सुचारू ना हो पाने के से किसान परेशान है। ग्रामीण क्षेत्रों में अंधेरा छा गया है। जो कई दिनों तक जारी रहेगा, जिससे इन ग्रामीणों की जिंदगी आज से 20 साल पहले जैसी हो गई । गांव में पानी के लिए भी ग्रामीण मोहताज है। वह हैंडपंप और कुंए से पानी भरने को विवश हैं। क्योंकि बिजली ना होने के कारण ना तो मोबाइल चार्ज हो पा रहा है और नहीं उनकी पानी के पंप चल पा रहे हैं।

दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक एस के वर्मा ने बताया कि इस तूफान ने 132 kv हइटेंशन खंभों को उखाड़ फेंका है। इस तूफान से विभाग को  5.50 करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ है। 8 मई तक बिजली की व्यवस्था सुचारु रुप से आपूर्ति होने का अनुमान है। दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक एस के वर्मा ने बताया कि विद्युत व्यवस्था सुचारू करने के लिए अन्य जिले के विद्युतकर्मियों को बुलाया गया है जिससे जल्द से जल्द विद्युत आपूर्ति सुचारू की जा सके।

About admin 2269 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*