शौर्य दिवस पर पुलिस ने युवा मोर्चा अध्यक्ष को घर में ही किया नजरबंद, जाने क्यों

आगरा। विवादित ढांचे की बरसी को शौर्य दिवस के रूप में मनाये जाने और शोभा यात्रा निकालने का एलान कर चुके भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष गौरव राजावत को पुलिस ने उनके ही घर में नजर बंद कर दिया है। युवा मोर्चा के अध्यक्ष गौरव राजावत शोभा यात्रा निकालने की तैयारी कर रहे थे तभी क्षेत्रीय पुलिस मौके पर पहुँच गयी। धारा 144 लगने और शहर की फिजा न बिगड़ने की बात कहकर क्षेत्रीय पुलिस ने युवा मोर्चा के अध्यक्ष और उनके साथियों को नजर बंद कर दिया और वहा पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया।

भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष गौरव राजावत का कहना था कि वो 9 दिसंबर को दिल्ली में राम मंदिर निर्माण को लेकर साधु संतों और राम भक्तो की धर्म सभा होने जा रही है। इस धर्म सभा में शहर से भी अधिक से अधिक लोग पहुँचे उसके लिए शोभायात्रा निकालकर शहरवासियों को आमंत्रण दिया जा रहा था लेकिन क्षेत्रीय पुलिस ने इस पर रोक लगाकर सभी को नजर बंद कर दिया है। लेकिन यह शोभायात्रा 9 दिसंबर से पहले शहर में निकाली जाएगी। जिसमें युवा मोर्चा के हर कार्यकर्ता अपना पूर्ण सहयोग देगा। यदि पुलिस ने दोबारा उन्हें रोकने का प्रयास किया तो सभी उसका विरोध करेंगे और प्रशाशन के न मानने पर अपनी गिरफ्तारी देंगे।

युवा मोर्चा के अध्यक्ष का कहना था कि पुरुषोत्तम श्री राम चन्द्र के काम में जो भी रुकावट पैदा करेगा उसके लिए एक एक हिन्दू अपनी आवाज़ को बुलंद कर उसे अपना जवाब देगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*