स्कूल प्रिंसिपल की तानाशाही और मनमानी के चलते कई अभ्यर्थियों की छूटी टेट परीक्षा

आगरा। शिक्षक बनने का सपना लेकर टेट की परीक्षा देने आये तमाम छात्रों का सपना जॉय हैरिस गर्ल्स इंटर कॉलेज की प्रिंसिपल की तानाशाही के कारण टूट गया। टेट परीक्षा में प्रवेश को लेकर कॉलेज पर हुई जांच पड़ताल में कॉलेज प्रिंसिपल मधुबाला की मनमानी के चलते कई अभ्यर्थियों की परीक्षा टूट गयी।

अभ्यर्थियों ने प्रिंसिपल की मनमानी के चलते हंगामा काटा और जिलाधिकारी को फोन कर सारी घटना से अवगत कराया। जिलाधिकारी ने प्रिंसिपल से बात कराने की बात कही तो प्रिंसिपल ने बात करने से ही मना कर दिया। जिलाधिकारी एन जी रवि कुमार का भी पारा चढ़ गया और तुरंत अपने दलबल के साथ पहुँच गए। जिलाधिकारी को अपने बीच पाकर छात्र रोने लगे और अपनी व्यथा बताने लगे।

वही कॉलेज प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। जिलाधिकारी के आने की सूचना मिलते ही जॉय हैरिस की प्रिंसिपल भी बाहर आ गयी। जिलाधिकारी ने फोन पर बात न करने और छात्रों को परेशान करने को लेकर प्रिंसिपल को खरी खोटी सुनाई। प्रिंसिपल की क्लास लगता देख अन्य शिक्षकों के होश उड़ गए। मौके पर पहुँचे एसएसपी ने भी अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ इस तरह के खिलवाड़ और उनका सहयोग न करने पर प्रिंसिपल के प्रति नाराजगी जाहिर की। दोनों अधिकारियों ने प्रिंसिपल को जता दिया कि भविष्य में ऐसा हुआ तो उसके परिणाम सही नही होंगे। लेकिन इस बीच काफी देर ही गयी और छात्रों का एग्जाम छूट गया।

टेट का परीक्षा में आई छात्रों ने बताया कि कॉलेज में प्रवेश को लेकर काफी फॉर्मेलिटीज कराई गयी जिन्हें पूरा भी किया गया लेकिन इनको पूरा करने के समय लगा और फिर उसके बाद प्रिंसिपल ने उनकी एक नही सुनी। छात्र सभी फॉर्मेलिटीज पूरी होने पर प्रवेश की गुहार लगते रहे लेकिन प्रिंसिपल तानाशाही रवैया अपनाई रही। इस बीच जिलाधिकारी भी पहुँचे लेकिन तब तक बहुत देर हो गयी और वो टेट का एग्जाम नही दे पाई।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*